in ,

देवली : पुजारी की मौत के बाद ब्राह्मण समाज ने जताया आक्रोश, धरना लगाकर की यह मांग

देवली : पुजारी की मौत के बाद ब्राह्मण समाज ने जताया आक्रोश, धरना लगाकर की यह मांग

टोंक। देवली कस्बे में सोमवार रात को हुई दिव्यांग पुजारी की मौत के मामले को लेकर ब्राह्मण समाज के लोग आज मंगलवार को परशुराम सर्किल पर धरना लगाकर बैठे हैं। समाज के लोगों का कहना है कि पुजारी के साथ मारपीट करने के आरोपियों के खिलाफ हत्या की धाराओं में कार्रवाई करने, पुजारी के परिवार को आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाने की मांग कर रहे है। घटना के बाद से ही पुलिस कार्यवाही में जुटी है।

शहर के रोडवेज बस स्टैंड परिसर स्थित नीलकंड महादेव मंदिर के दिव्यांग पुजारी गोपाल पाराशर (55) की सोमवार रात को मौत हो गई थी, पुजारी की मौत के बाद से ही समाज के लोगों में आक्रोश व्याप्त है। वहीं पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी समझाइश में जुटे हुए हैं।

जानकारी के मुताबिक नीलकंठ महादेव मंदिर के पुजारी गोपाल पाराशर के पुत्र अशोक पाराशर ने सोमवार रात को देवली थाना पुलिस को रिपोर्ट सोपी है। रिपोर्ट में बताया कि उसके पिता गोपाल ने बस स्टैंड पर चाट की दुकान से मास्क खरीदा था, उसी मास्क को वापस करने वह पारस चाट भंडार गए जहां उनके साथ पारस साहू व शिवराज साहू ने मारपीट कर दी। उक्त घटना के बाद पुजारी गोपाल की तबियत बिगड़ गई, जिसकी कुछ समय बाद मौत हो गई। मृतक के पुत्र का आरोप है कि दोनों भाइयों ने उसके पिता के साथ मारपीट की जिससे उनकी मौत हुई है।

घटना की जानकारी जैसे ही ब्राह्मण समाज के लोगों को लगी दर्जनों लोग पुलिस थाने में घटना को लेकर रोष जताने पहुंच गए। यहां पुलिस उप अधीक्षक दीपक मीणा, थाना प्रभारी राजेंद्र खंडेलवाल ने लोगों से समझाइश कर उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया। वहीं पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में रखवा दिया।

लेकिन मंगलवार सुबह ब्राह्मण समाज के लोग हत्या की धाराओं में मामला दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार करने, मृतक परिवार के आश्रितों को आर्थिक सहायता दिलाने की मांग को लेकर परशुराम सर्किल पर धरने पर बैठे है। वहीं थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम के लिए तैयारी प्रारंभ कर दी है।

Written by CITY NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बीकानेर के नोखा में क्रूजर और ट्रेलर की आमने-सामने भिड़ंत में 11 की मौत, 7 जने घायल

धर्म भाई ने किया बहन के साथ दुष्कर्म, सात बहनों के नहीं था भाई, तीन साल से बंधा रही थी राखी