in ,

निवाई में टोंक ACB टीम ने 60 हजार की रिश्वत लेते पटवारी को रंगे हाथों किया गिरफ्तार

टोंक/निवाई, (शिवराज मीना/कजोड़ गुर्जर)। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) टोंक के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश आर्य के नेतृत्व में गुरूवार की शाम को पहाडी हल्का पटवारी जितेन्द्र बैरवा को 60 हजार रूपये की रिश्वत राशि के साथ रंगे हाथों गिरफ्तार (Pahari Halka Patwari Jitendra Bairwa arrested red handed with a bribe amount of 60 thousand rupees) किया हैं।

ACB टोंक के एएसपी राजेश आर्य ने बताया कि निवाई उपखण्ड क्षेत्र के पहाड़ी हल्का पटवारी द्वारा परिवादी से जमीन का तकासमा करवाने की एवज में डेढ लाख रूपये की रिश्वत मांगी जा रही थी। पटवारी द्वारा मांगी गई राशि परिवादी के पास नहीं थी। जिस पर उसने भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो टोंक कार्यालय पर सम्पर्क कर पटवारी द्वारा रिश्वत मांगने की शिकायत की। परिवादी ने एसीबी ब्यूरो को बताया कि न्यायालय सहायक कलक्टर निवाई में कमला बनाम नारायण के तकासमा का वाद चल रहा है। जिसमें हल्का पटवारी जितेन्द्र बैरवा जमीन की मौका रिर्पाेट तैयार कर बंटवारा करवाने के लिए सहायक कलक्टर को भिजवा दी। लेकिन अभी तक हमारी जमीन के बंटवारे के संबंध में डिग्री जारी नहीं हुई तथा अनावश्यक तारीख पर तारीख दी जा रही है। 

इस संबंध में पटवारी से सम्पर्क किया तो उसने सहायक कलक्टर से फैसला करवाने की एवज में डेढ लाख रूपये की मांग की। परिवादी की शिकायत पर ब्यूरो द्वारा रिश्वत राशि की मांग का सत्यापन करवाया गया। सत्यापन में पटवारी द्वारा नायब तहसीलदार ओमप्रकाश सिंह के मार्फत सहायक कलक्टर से फैसला करवाने की एवज में परिवादी से डेढ लाख रूपये मांगे गए। परिवादी के पास डेढ लाख रूपये नहीं थे। 

इस पर ब्यूरो ने 200 रूपये के नोटों की गड्डियों के ऊपर 500 रूपये रखकर तीन बंडल पटवारी जितेन्द्र बैरवा को दिए। पटवारी ने डेढ लाख रूपये समझकर अपने पास रख लिए। जिसे ब्यूरो ने मौके से 60 हजार रूपये की राशि को बरामद किया जाकर पटवारी को रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है। जबकि एसीबी कार्यवाही की भनक लगते ही नायब तहसीलदार मौके से फरार हो गया। वहीं ACB टीम द्वारा आरोपियों के आवास एवं अन्य ठिकानों पर तलाशी जारी हैं तथा मामले में पटवारी और नायब तहसीलदार के विरूद्ध एसीबी द्वारा अनुसंधान जारी है। 

Written by CITY NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बाड़मेर : ट्रैक्टर से बचने कि कोशिश की तो चलते ट्रक में घुसी एक्टिवा स्कुटी, हादसे में युवक की मौत

सीकर : वकील ने SDM कोर्ट में खुद को आग लगाई आग, मौत के बाद मिला यह नोट, मचा हड़कंप