in ,

राजस्थान सीएम गहलोत सहित कांग्रेस नेताओं को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में लिया, गहलोत बोले- मोदी की तानाशाही पूरा देश देख रहा है

नई दिल्ली/जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को सोमवार को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में ले लिया। राहुल गांधी को मिले ईडी के सम्मन के विरोध में बिना अनुमति के पैदल मार्च निकालने पर पुलिस कांग्रेस नेताओं को हिरासत में लिया गया। सीएम गहलोत के साथ छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल, रणदीप सुरजेवाला और कन्हैया कुमार को भी हिरासत में लिया गया। पैदल मार्च में शामिल होने के लिए सीएम गहलोत रविवार को ही राजसमंद से सीधे दिल्ली के लिए रवाना हो गए थे। सीएम गहलोत ने मोदी सरकार पर जांच एजेंसियों का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया। सीएम गहलोत ने कहा कि मोदी सरकार जांच एजेंसियों का डर दिखाकर कांग्रेस की आवाज को दबाना चाहती है। मोदी की तानाशाही को पूरा देश देख रहा है। 

सीएम गहलोत ने कहा कि कांग्रेस के शांतिपूर्ण मार्च को रोका गया है। तानाशाही को पूरा देश देख रहा है। कांग्रेस मुख्यालय की घेराबंदी कर ली गई है। चारों तरफ पुलिस लगा दी गई है। नेता-कार्यकर्ताओं को पुलिस हिरासत में लिया गया है। मुझे भी ईडी जाते समय साथियों के साथ हिरातसत में लिया गया। आगे चलकर देश के हालात बहुत खतरनाक होंगे। 

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने सोनिया गांधी और राहुल गांधी को ईडी का नोटिस दिये जाने के विरोध में जयपुर स्थित ईडी के कार्यालय तक पैदल मार्च निकाला। राजधानी जयपुर में प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय से लेकर सी स्कीम स्थित ईडी कार्यालय तक कांग्रेस के नेताओं ने पैदल मार्च निकाला। ईडी कार्यालय के बाहर कांग्रेस कार्यकर्तओं ने प्रदर्शन किया। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के नेतृत्व में गहलोत सरकार के मंत्री, विधायक और पार्टी कार्यकर्ता सुबह 9 बजे ही प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर एकत्रित हो गए। शांतिपूर्ण पैदल मार्च में बड़ी संख्या कार्यकर्ता राहुल गांधी जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे। 

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा। डोटासरा ने कहा कि पीएम मोदी हिटलर की तरह काम कर रहे हैं। मोदी सरकार तानाशाह सरकार है। हिटलरशाही सरकार है। केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है। हमारी नेता सोनिया गांधी और राहुल गांधी पर गलत तरीके से आरोप लगाए गए है। प्रताड़ित करने के लिए ईडी का सम्मन भेजा गया है। दोनों नेताओं पर कोई मामला बनता ही नहीं है। 8 साल बाद ईडी ने सम्मन जारी किया है।
 

Written by CITY NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

भू माफियाओं ने 10 फिट से ज्यादा बरसाती चौड़े नाले को बंद कर किया अतिक्रमण, विरोध हुआ तो 1 फीट का बनाया

भरतपुर : आरक्षण की मांग को लेकर सैनी समाज ने शुरू किया आंदोलन, जयपुर-आगरा हाइवे 21 जाम, इंटरनेट बंद