in ,

कोटा में ऑनलाइन क्रिकेट सट्टा चलाते 5 गिरफतार,कम्युनिकेशन डिवाइस, 7.5 करोड़ का हिसाब, 68 हजार नगद बरामद

कोटा। शहर में अब ऑनलाइन सट्टेबाजी का कारोबार तेजी से फलने फुलने लगा है। बुकी अब ऑफलाइन की बजाय ऑनलाइन सट्टा लगवा रहे हैं। ऐसे ही एक गिरोह का पर्दाफाश करते हुए मकबरा थाना पुलिस ने 5 सटोरियों को गिरफ्तार किया है। जिनके पास से बड़ी संख्या में मोबाइल लैपटॉप समेत नगदी बरामद हुई है। 

पुलिस उप अधीक्षक अमर सिंह राठौड़ ने बताया कि मकबरा थाना पुलिस की टीम को सूचना मिली थी कि घंटाघर के मोची कटला में एक मकान में क्रिकेट के ऊपर सट्टा लगवाया जाता है। यहां बुकी बैठकर ऑनलाइन इस कारोबार को ऑपरेट करते हैं। सूचना मिलने के बाद पुलिस ने सर्च आपरेशन की कार्यवाही करते हुए मकान में दबिश दी। इस मकान की तीसरी मंजिल पर सट्टे का यह कारोबार चल रहा था।

कम्युनिकेशन डिवाइस

पुलिस ने मौके से भीमगंज मंडी निवासी रेहान, कोतवाली निवासी रशीद, उद्योग नगर निवासी जमील अहमद, मकबरा निवासी फाजिल और उद्योग नगर निवासी शोएब को गिरफ्तार किया। पुलिस ने मौके से 24 मोबाइल, एक लैपटॉप एक पेन ड्राइव, एलईडी, वॉइस रिकॉर्डर, 3 माइक, ईयरफोन जब्त किए।

पुलिस ने बताया कि मौके पर पुलिस को एक ब्रीफकेस मिला। इसे खोल कर देखा तो इसमें कम्युनिकेशन डिवाइस लगा हुआ था। इस कम्युनिकेशन डिवाइस से 10 मोबाइल जुड़े हुए थे। इन्हीं के जरिए ये आरोपी कोटा से बाहर के सटोरियों और सट्टा लगाने वालों के संपर्क में रहते हैं। इसके जरिए भाव लेते थे और लगाने वालों को भाव बताते थे। साथ ही इसके जरिये लाइव मैच पर नजर भी रखते थे।

पुलिस ने बताया कि आरोपी एक सॉफ्टवेयर के जरिए यह कारोबार चला रहे थे। हॉर्स रेस नामक सॉफ्टवेयर इन्होंने पेन ड्राइव में सेव कर रखा था। पुलिस ने जब इसे खोला तो इसमें सात करोड़ 50 लाख 70 हजार का हिसाब मिला। इसके अलावा मौके से 68 हजार नगद भी बरामद हुए। 

Written by CITY NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोटा से बांसवाड़ा आ रहे सदर थाना CI रमेशचंद्र की सड़क हादसे में मौत, हाइवे पर खेरपुरा पुलिया से गिरी कार

जोधपुर : प्राइवेट स्कूल टीचर ने 11वीं की स्टूडेंट का अपहरण कर दो दोस्तों के साथ मिलकर किया दुष्कर्म