in

खेती किसानी जैसा काम करते हैं या अन्य तरह के उत्पादक हैं उन्हें इज़्ज़त नहीं मिलती- राहुल गांधी

बूंदी। भारत जोड़ो यात्रा के 94वें दिन, शनिवार को सुबह 8ः30 में बुंदी ज़िले के रंगपुरिया, केशवरायपाटन से यात्रा शुरू हुई। सुबह के सत्र में यात्रियों ने अरनेठा गांव तक क़रीब 14 किलोमीटर की पदयात्रा की। इस दौरान सफाई कर्मचारी, पीस मिशन सोसायटी के चारो धर्मों के गुरु और मानवाधिकार अधिवक्ता भी राहुल गांधी के साथ चले। 10 दिसंबर को मानवाधिकार दिवस होता है। 

Those who work like farmers or are other types of producers do not get respect – Rahul Gandhi

दोपहर में राहुल गांधी ने राजस्थान सरकार की अनुप्रति कोचिंग योजना के लाभार्थी विद्यार्थियों से बातचीत की जो कोटा के टॉप‌ कोचिंग संस्थानों में निशुल्क पढ़ाई कर रहे हैं। इस दौरान एलन, रेजोनेंस और मोशन के प्रतिनिधि भी थे। अनुप्रति कोचिंग योजना के तहत ैब्,ैज्,व्ठब् एवं सामान्य वर्ग के बीपीएल परिवारों के विद्यार्थियों को फ्री कोचिंग के साथ रहने-खाने के लिए ₹40000 की आर्थिक सहायता दी जाती है। 

राहुल गांधी से बातचीत के दौरान कुछ छात्रों ने बताया कि वे ग़रीब परिवार से ताल्लुक रखते हैं यदि उन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिलता तो वे आईआईटी या मेडिकल की तैयारी नहीं कर पाते। वहां आए ज़्यादातर बच्चे सामान्य या ग़रीब परिवारों से ही थे। 

राहुल गांधी ने इस दौरान देश के एजुकेशन सिस्टम और समाज की खामियों को हाइलाइट किया। उन्होंने कहा कि हमारे देश में सिर्फ डॉक्टर, इंजीनियर, वकील जैसे गिने-चुने प्रोफेशन की ही इज़्ज़त होती है। जो लोग खेती किसानी जैसा काम करते हैं या अन्य तरह के उत्पादक हैं उन्हें इज़्ज़त नहीं मिलती। न ही उन्हें किसी तरह का सपोर्ट मिलता है। बैंक वाले उन्हें लोन भी नहीं देते। यही कारण है कि बच्चे सिर्फ़ इन्हीं प्रोफेशन में जाना चाहते हैं। मां-बाप भी बच्चों को डॉक्टर, इंजीनियर,आईएएस बनाना चाहते हैं। 

Those who work like farmers or are other types of producers do not get respect – Rahul Gandhi

बातचीत के दौरान जब एक बच्ची ने बताया कि वह यूट्यूब से मार्शल आर्ट सीखती है तब उन्होंने तुरंत उसका ताइक्वांडो सीखने के लिए एडमिशन करवा दिया। 

Those who work like farmers or are other types of producers do not get respect – Rahul Gandhi

हिमाचल का चुनाव परिणाम भाजपा के लिए बहुत बड़ा धक्का है- जयराम रमेश

दोपहर में कांग्रेस सांसद जयराम रमेश ने एक प्रेस कान्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि हिमाचल का चुनाव परिणाम भाजपा के लिए बहुत बड़ा धक्का है। पीएम ने वहां 10 रैलियां की। उनके अध्यक्ष हिमाचल के हैं। केंद्रीय सुचना एवं प्रसारण मंत्री वहीं के हैं। वे सब लगे हुए थे फिर भी राज्य में “डबल इंजन सरकार” पटरी से उतर गई। हिमाचल प्रदेश का रिजल्ट कांग्रेस के लिए बूस्टर डोज़ की तरह है। 

यात्रा में आई ज़बरदस्त भीड़ की बात करते हुए जयराम रमेश ने कहा कि आज हम लोकसभा स्पीकर के संसदीय क्षेत्र में हैं। इसे भाजपा का गढ़ माना जाता है। यहां इस तरह से यात्रा को समर्थन मिलना इसकी सफलता को दिखाता है। 

शाम के सत्र में यात्रा अरनेठा गांव से शुरू होकर बालापुर चौराहा, कापरेन तक हुई। इस दौरान मोशन एजुकेशन के संस्थापक नितिन विजय राहुल गांधी के साथ करीब एक घंटे से ज़्यादा चले। दोनों के बीच शिक्षा और रोज़गार से जुड़े मुद्दों पर गहरी बातचीत हुई।
 

Written by CITY NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

भारत जोड़ो यात्रा : धर्मगुरूओं ने क़दमताल मिलाते हुए दिया सद्भावना का संदेश, कोचिंग छात्रों से कि चर्चा- पढ़ें पूरी खबर

भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुए ‘राजस्थान जन जागृति पद यात्री‘ कश्मीर तक साथ जायेगें