in

रेजोनेंस का नेशनल ‘स्टूडेंट टैलेंट रिवार्ड टेस्ट’ स्टार्ट के रजिस्ट्रेशन प्रारंभ,1करोड़ के मिलेंगे पुरस्कार

कोटा। देश में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी (preparation for competitive exams) के लिए अग्रणी संस्थान रेजोनेंस (Leading Institute Resonance) ने ‘स्टूडेंट टैलेंट रिवार्ड टेस्ट‘ (‘Student Talent Reward Test’) कराने की घोषणा की है। इस प्रतियोगिता का विधिवत शुभारंभ रेजोनेंस के प्रांगण में 13 अगस्त को सम्पन्न हुए हर घर तिरंगा कार्यक्रम के दौरान पोस्टर विमोचन के माध्यम से हुआ जिसमें लोकसभा अध्यक्ष एवं कोटा-बूंदी क्षेत्र से सांसद ओम बिरला मुख्य अतिथि रहे। उन्होंने रेजोनेंस के प्रबंध निदेशक आर के वर्मा (Resonance Managing Director RK Verma) एवं संस्थान के विभागाध्यक्षों के साथ स्टार्ट 2022 के पोस्टर का विमोचन किया।

प्रबंध निदेशक आर के वर्मा ने बताया की स्टार्ट पूरे देश में प्रतिभा की खोज (Start talent search across the country) एवं उन्हें पुरस्कृत करने के लिए कराई जाने वाला एक परीक्षा है। सबसे पहले यह परीक्षा 2012 में आयोजित की गई थी और 2022 में होने जा रहा यह इस परीक्षा का 10 वां एडिशन होगा। 

छठी से बारहवीं तक के विद्यार्थियों ले सकते है भाग 
उन्होंने बताया कि ऑनलाइन व ऑफलाइन (online and offline) दोनों माध्यमों में होने वाली यह परीक्षा दो चरणों में आयोजित होगी जिसमें कक्षा 6 से लेकर 12 तक के विद्यार्थी भाग ले सकते हैं। कक्षा 11वीं एवं 12वीं में किसी भी संकाय के विद्यार्थी इसमें भाग ले सकते हैं। उन्होंने कहा कि परीक्षा इंग्लिश एवं हिंदी दोनों माध्यमों में होगी। परीक्षा के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन संस्थान की वेबसाइट पर प्रारंभ हो चुके हैं।

केटेगरी व अवार्ड्स
उन्होंने बताया कि परीक्षा कुल 10 कैटेगरी में आयोजित की जाएगी। कक्षा 6 से 10 तक हर क्लास की एक केटेगरी होगी जबकि कक्षा 11वीं एवं 12वीं में गणित व जीव विज्ञान के विद्यार्थियों की अलग अलग केटेगरी होगो। एक ओपन केटेगरी होगी जिसमें अन्य विषयों जैसे कॉमर्स, आर्ट्स व अन्य संकायों के विद्यार्थी भाग ले सकते हैं । इसमें हर कैटेगरी के प्रथम 200 विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया जाएगा।

इस तरह कुल 2000 विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया जाएगा
परीक्षा के माध्यम से 1 करोड़ रुपए के पुरस्कार दिए जाएंगे जिसमें कैश रिवार्ड, एजुकेशनल टूर एवं विशेष पुरस्कार सम्मिलित हैं जिसमें लैपटॉप, डेस्कटॉप, टेबलेट, स्मार्ट फ़ोन, स्मार्ट वॉच इत्यादि सम्मिलित हैं साथ ही इस परीक्षा के माध्यम से ₹60 करोड़ तक की स्कॉलरशिप की घोषणा भी की है।

स्कूलों के लिए भी विशेष अवसर
उन्होंने बताया कि इस परीक्षा के माध्यम से स्कूल के विद्यार्थियों को राष्ट्रीय स्तर पर अपनी प्रतिभा का आंकलन करने का अवसर मिलता है। विद्यार्थियों के अलावा स्टार्ट के माध्यम से स्कूल के निदेशकों, प्रधानाचार्य एवं कोऑर्डिनेटर्स को भी पुरस्कृत किया जाएगा । यह पुरस्कार 2 कैटेगरी में दिए जाएंगे जिसमें जिन स्कूलों के विद्यार्थियों का परिणाम सबसे बेहतर रहेगा एवं जिन विद्यालयों से सबसे अधिक विद्यार्थी इस प्रतियोगिता में भाग लेंगे ये दोनों सम्मिलित हैं। संख्या के आधार पर दिए जाने वाले पुरस्कार राजकीय व निजी विद्यालयों के लोए अलग अलग होंगे। स्कूलों के निदेशकों, प्रधानाचार्य एवं कोऑर्डिनेटर को भी पुरस्कृत किया जाएगा एवं एडुटूर पर भेजा जाएगा ।

चैंपियंस कैम्प व फ्यूज़न
हर कैटेगरी के टॉप 20 विद्यार्थियों को दो दिवसीय चौंपियन्स कैम्प के लिए कोटा बुलाया जाएगा जिसमें उन्हें शैक्षणिक, करियर रिलेटेड एवं मोटिवेशनल सेशन करवाए जाएंगे । चौंपियंस कैम्प के तुरंत बाद प्रतियोगिता का पारितोषिक वितरण समारोह फ्यूजन होगा।

भाग लेने का तरीका
इस परीक्षा के लिए विद्यार्थी ऑनलाइन  www.resostart.in पर या स्कूल के माध्यम से रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं ऑनलाइन टेस्ट में भाग लेने वाले विद्यार्थियों के लिए रजिस्ट्रेशन फीस ₹200 है। वहीं स्कूलों के जरिए भाग लेने वाले विद्यार्थियों के लिए राजकीय व निजी विद्यालयों की फीस अलग-अलग है। केंद्रीय विद्यालय, जवाहर नवोदय विद्यालय, आर्मी व सैनिक स्कूल के विद्यार्थियों के लिए इसे निःशुल्क रखा गया है । स्कूल अपने विद्यार्थियों की भागीदारी के लिए 9352676055 या 0744-2777777 पर कॉल कर सकते हैं।

7.25 लाख विद्यार्थी भाग ले चुके हैं अभी तक
2012 से लेकर अभी तक स्टार्ट प्रतियोगिता में लगभग 4800 स्कूलों ने भाग लेने के लिए अपनी सहमति दी है जिनमें से लगभग 2500 स्कूलों में यह प्रतियोगिता कराई जा चुकी है जिसमें लगभग 7.25 लाख विद्यार्थी पिछले 10 वर्षों में इस परीक्षा में भाग ले चुके हैं । उन्होंने बताया की स्टार्ट प्रतियोगिता बच्चों की प्रतिभा आंकने का एक ऐसा प्लेटफार्म है जिससे विद्यार्थी को आगे चलकर केरियर ओरिएंटेड परीक्षाओं में अच्छा प्रदर्शन करने में मदद मिलती है । पूर्व में भी स्टार्ट परीक्षा में टॉपर रहे विद्यार्थियों ने आगे चलकर आईआईटी, मेडिकल, यूपीएससी व मैनेजमेंट की प्रतियोगी परीक्षाओं में शानदार सफलता प्राप्त की है एवं एक सफल कैरियर का निर्माण किया है ।
 

Written by CITY NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोटा शहर की सड़कों की हालत ऐसी कर दी की 26 परिवारों के चिराग बुझ गए अंधेरा छा गया- गुंजल

जयपुर : लाइसेंसी रिवाल्वर से एक शख्स ने खुद के मारी गोली, हुई मौत- वजह जानकर रह जाओगे दंग